j
जीविका के लिए तैयार, जीवन के लिए तैयार
About Lesson

पिछले दो वीडियो में हमने समझा की रोज़मर्रा की ज़िन्दगी में हमें तनाव तब होता है जब हमें लगता है कि जिन परिस्थितियों का सामना हम कर रहें हैं उनसे जूझने की क्षमता हम में नहीं है। फिर अगर हमारी स्वाभाविक सोच निराशाजनक होती है तो यह हमारा तनाव और बड़ा देती है।

हम तनावपूर्ण परिस्थिति को तो बदल नहीं सकते मगर हम उस तनावपूर्ण परिस्थिति के बारे में कैसे सोचते हैं इस सुचिंतित सोच को, प्रशिक्षण के साथ, ज़रूर बदल सकते हैं। स्वचालित सोच के प्रशिक्षण में मूल बात है की हम नकारात्मक विचारों की कड़ी बनने से पहले अपना ध्यान कहीं और ले जाएँ। इस वीडियो में हम समझते हैं स्वचालित सोच के प्रशिक्षण के कुछ तरीके।

Exercise Files
No Attachment Found
No Attachment Found